गोयनका कालेज में तालाबंदी

23-Dec-2015 ||    सीतामढ़ी ||   

गोयनका कालेज में तालाबंदी मंगलवार को अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद जिला इकाई ने एसआरके गोयनका कालेज में भ्रष्टाचार व कुव्यवस्था का आरोप लगाते हुए तालाबंदी कर विरोध प्रदर्शन किया। जिसके कारण इंटर की सेंटअप जांच परीक्षा नहीं हुई। साथ ही कालेज का दैनिक काम-काज भी ठप रहा। हालांकि पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत जांच परीक्षा देने भारी संख्या में परीक्षार्थी कालेज पहुंच गये थे। इस बीच कालेज प्रशासन द्वारा परीक्षा स्थगित रहने की सूचना पर परीक्षार्थी को वापस लौट जाना पड़ा। इधर विद्यार्थी परिषद के छात्रों ने संगठन के जिला संयोजक अनीष कुमार सिंह के नेतृत्व में पूरे दिन कालेज परिसर में प्रदर्शन कर नारेबाजी करते रहे। संयोजक श्री सिंह ने प्राचार्य पर कालेज में भ्रष्टाचार व कुव्यवस्था का आरोप लगाते हुए कहा कि शैक्षिक वर्ष 2014-15 एवं 2015-16 में करीब सात हजार नामांकित छात्र-छात्रओं से कम्प्यूटर शिक्षा के नाम पर प्रति छात्र तीन-तीन सौ रूपये की वसूली करने के बावजूद कम्प्यूटर शिक्षा उपलब्ध नही कराया जा सका। साथ ही एनसीसी एवं इंटर व स्नातक की प्रायोगिक परीक्षा के नाम पर लाखों रूपये अवैध वसूली करने आदि आरोप लगाया और कहा कि संगठन की मांग पर कालेज प्रशासन द्वारा शीघ्र कार्रवाई नही हुई तो संगठन द्वारा धारदार आंदोलन चलाया जायेगा। मौके पर संगठन द्वारा 10 सूत्री एक मांग पत्र का ज्ञापन प्राचार्य को सौपा गया। जिसमें छात्रों को कम्प्यूटर शिक्षा के नाम पर वसूली गई राशि को वापस लौटाने, इंटर विज्ञान में नामांकन सूची की जांच करने, विज्ञान संकाय के कांउटर लिपिक को स्थानांतरण करने, व्यावसायिक कोर्स सहित सभी वर्गों का निर्धारित समय के अनुरूप संचालन करने, अवैध बहाली को रद करने आदि मांग शामिल है। मौके पर संगठन के प्रदेश कार्य समिति सदस्य मणिकांत झा हिमांशु, राघवेन्द्र कुमार, सुमन कुमार, गुड्ड कुमार, सुमन सिंह, अमीत कुमार, मनीष चौधरी, रवि रंजन कुमार, सचिन झा, बादल राय, विश्वजीत कुमार, बीरू कुमार, शशि प्रकाश भारती, भरत कुमार, विकास कुमार आदि छात्र उपस्थित थे। जिला संयोजक श्री सिंह ने कहा कि प्राचार्य ने 25 दिसम्बर तक मांग पर जांच करने का आश्वासन दिया है। उधर दूसरी ओर प्राचार्य प्रो. राणातेज प्रताप सिंह ने कालेज में कुव्यवस्था व भ्रष्टाचार के आरोप को गलत बताते हुए कहा है कि विभागीय आदेश के तहत सभी छात्र-छात्रओं को कम्प्यूटर साक्षर करना है। इसके तहत नामांकित छात्रों से कम्प्यूटर शिक्षा शुल्क वसूली की बात स्वीकार कर उन्होंने कहा है कि वसूली गई राशि कालेज विकास कोष में जमा करने का प्रावधान है। प्राचार्य श्री सिंह ने कहा है कि कालेज में अकसर कोई न कोई परीक्षा का केन्द्र बनाये जाने के चलते छात्रों से वसूली गई शुल्क के अनुरूप कम्प्यूटर का वर्ग संचालन में कठिनाई हो रही है। बावजूद इसके समस्या का समाधान का प्रयास किया जा रहा है।

  बड़ी खबर

Image

ट्रेन हादसे में 91 लोगों की मौत

नई दिल्ली। उत्तर प्रेदश के पुखरायां में इंदौर से पटना जा रही इंदौर-राजेंद्रनगर एक्सप्रेस के 14 डिब्बे पटरी से उतर गए हैं। इस बड़े ट्रेन हादसे में अब तक 63 लोगों के मारे जाने की खबर है वहीं 150 से ज्या

...विवरण पढ़े

~   ट्रेन हादसे में 91 लोगों की मौत

~   संसद जैसा विधानमंडल का सेंट्रल हॉल

~   'बिहार का हौसला व मनोबल बुलंद'

~   उत्तर भारत में भूकंप के तेज झटके

~   कोर्ट से राहुल गांधी को मिली जमानत

~   संसद से सड़क तक ‘नोटबंदी’ पर संग्राम

~   'बेनामी संपत्ति पर हमला करे केंद्र'

~   हर घर बिजली योजना का शुभारंभ

~   सेनारी कांडः 10 को फांसी, 3 को उम्रकैद

~   जाकिर की संस्‍था पर पांच साल का बैन