युवक की हत्या पर पंचायतों का दौर

10-Nov-2013 ||    फरीदाबाद ||   

 युवक की हत्या पर पंचायतों का दौर होडल केकोसी कला यू.पी. के गांव नगला उटावड़ निवासी साहिल की मौत के मामले में लगभग एक सप्ताह बीतने के बाद भी पुलिस कोई सुराग नहीं लगा सकी है। घटना के बाद आसपास के गावों में तनाव व्याप्त है। मामले को लेकर कोसी के नंगला उटावड़ में आए दिन पंचायतों का आयोजन किया जा रहा है, लेकिन अभी तक पंचायत भी इस मामले को सुलझाने में असमर्थ रहीं हैं, वहीं पुलिस भी इस मामले को लेकर केवल मूकदर्शक बनी हुई है। पंचायतों के बढते दबाव के बाद पुलिस ने मामले को सुलझाने के लिए दो टीमों का गठन किया है। घटना 2 नवम्बर की बताई गई है। पुलिस ने मामले में मृतक के चाचा समशु के बयान पर हत्या का मामला दर्ज किया था। ज्ञात रहे कि 2 नवम्बर को गांव भिडूकी के निकट से जा रही उझीना ड्रेन में एक युवक का शव पड़ा मिला था। ग्रामीणों ने इस मामले की जानकारी हसनपुर पुलिस को दी थी। जिस पर पुलिस व ग्रामीणों के सहयोग से मृतक के शव की पहचान कोसी के नंगला उटावड़ निवासी समशु के रूप में हुई थी। गांव के लोगों ने युवक के शव को देखकर उसकी हत्या किए जाने की आशंका व्यक्त की थी। मृतक युवक के मामले को लेकर नंगला उटावड़ मे तीन बड़ी पंचायतों का आयोजन किया जा चुका है जिसमें आसपास के दर्जनों गावों के दोनों समुदायों के सैंकड़ों लोगों ने हिस्सा लिया और मामले को सुलझाने का काफी प्रयास किया लेकिन कोई समाधान नहीं हो सका। बीती देर सांय भी गांव नगंला उटावड में एक बडी पंचायत का आयोजन किया गया जिसमें दोनों समुदायों के सैंकडों लोगों ने हिस्सा लिया। पंचायत में लोगों ने मामले को सुलझाने के लिए अब पुलिस पर दबाव बनाना शुरु कर दिया है। ग्रामीणों के बढते दबाव के बाद पुलिस ने मामले की दोवारा से जांच शुरु कर दी है। थाना प्रभारी का कथन: इस संदर्भ में हसनपुर थाना प्रभारी मनोहर लाल ने बताया कि पुलिस ने मृतक के चाचा के बयान पर घटना के दिन ही हत्या का मामला दर्ज कर लिया था। उन्होंने बताया कि मृतक पोस्टमार्टम रिपोर्ट में युवक के शरीर पर चोटों के निशान पाए गए हैं जिनके आधार पर पुलिस ने सी.आई.ए. सहित दो टीमों का गठन कर मामले की जांच शुरु कर दी है। पुलिस मामले में दोषियों की जांच के लिए लगातार दबिश दे रही है।

  बड़ी खबर

Image

ट्रेन हादसे में 91 लोगों की मौत

नई दिल्ली। उत्तर प्रेदश के पुखरायां में इंदौर से पटना जा रही इंदौर-राजेंद्रनगर एक्सप्रेस के 14 डिब्बे पटरी से उतर गए हैं। इस बड़े ट्रेन हादसे में अब तक 63 लोगों के मारे जाने की खबर है वहीं 150 से ज्या

...विवरण पढ़े

~   ट्रेन हादसे में 91 लोगों की मौत

~   संसद जैसा विधानमंडल का सेंट्रल हॉल

~   'बिहार का हौसला व मनोबल बुलंद'

~   उत्तर भारत में भूकंप के तेज झटके

~   कोर्ट से राहुल गांधी को मिली जमानत

~   संसद से सड़क तक ‘नोटबंदी’ पर संग्राम

~   'बेनामी संपत्ति पर हमला करे केंद्र'

~   हर घर बिजली योजना का शुभारंभ

~   सेनारी कांडः 10 को फांसी, 3 को उम्रकैद

~   जाकिर की संस्‍था पर पांच साल का बैन